Featured post

यथा दृष्टि तथा सृष्टि

कोशिश .....An Effort by Ankush Chauhan जीवन जीने का वास्तविक तरीका यदि हम जान ले तो जीवन अपने आप सुन्दर हो जाएगा। हम अक्सर देखते ...

मै और वो ..

कोशिश .....An Effort by Ankush Chauhan


मै और वो ..
मै अधेड़ उम्र इन्सान ..
वो बालक छोटा सा नादान ....
वो छोटा बच्चा ,दिल का सच्चा ...
मगर जीवन की सच्चई से अनभिज्ञ ...
मै अनुभव के पिटरो में,
भूतकाल की पीड़ा को समेटे ...
      मै और वो ..
      मै अधेड़ उम्र इन्सान ..
      वो बालक छोटा सा नादान ...
      आसमान में उमड़े बादल को देख ...
      वो भी समझा, मै भी जाना ...
      अब बारिश जम के बरसेगी ...
      वो मन में बहुत उत्साहित ,
      चहेरे पर छाई मुस्कराहट उसके ...
      मै सहमा घबराया सा ,
      मस्तक पर मेरे चिंता की रेखाये ..
मै और वो ..
मै अधेड़ उम्र इन्सान ..
वो बालक छोटा सा नादान ..
वो कागज के टुकड़े ढूडता ..
आपनी नाव बनाने को ...
मै घास फ़ुस और तिनके ढूडता ..
अपनी छत बचाने को ...
      मै और वो ..
      मै अधेड़ उम्र इन्सान ..
      वो बालक छोटा सा नादान ..
      वो खुश फिर पानी भरेगा,
      जिसमे वो आपनी नाव चलायेगा ..
      मै दुखी अगर पानी भरा अबके तो ,
      मेरा कच्चा घर ढह जायेगा ....
मै और वो ..
मै अधेड़ उम्र इन्सान ..
वो बालक छोटा सा नादान ..

-AC 

No comments:

Post a Comment