Featured post

भारतीय दर्शन और आधुनिक विज्ञान

कोशिश .....An Effort by Ankush Chauhan भारतीय दर्शन विश्व के प्राचीनतम दर्शनो में से एक है इसमें अनेक वैज्ञानिक सिंद्धान्तो को प्रतिपादि...

what can help to fight coronavirus

कोशिश .....An Effort by Ankush Chauhan
आज पूरा विश्व कोरोना वायरस से डरा हुआ है। चीन से फैली ये बीमारी आज पूरे विश्व में अपने पैर फैला रही है। कोरोना वायरस ने आज महा मारी का रूप ले लिया है। वैसे तो कोई भी वायरस या बैक्टेरिया हमे तभी प्रभावित करता है जब हमारी रोग प्रतिरोधक क्षमता कम होती है। इसलिये किसी भी रोग या संक्रमण से लड़ने के लिए हमे अपनी रोग प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाना होगा।
यहाँ पर हमें एक चीज को समझना होगा के कपड़े सिलने के लिए सुई , तलवार से अधिक उपयुक्त है क्योंकि सूक्ष्म काम के लिए सूक्ष्म अधिक प्रभावी है उसी सूक्ष्म की शक्ति का उपयोग भारतीय संस्कृति में सदियों से किया जाता रहा है वो सुक्ष्म की शक्ति है यज्ञ। यज्ञ भारतीय परम्परा का अभिन्न अंग है जिसे आधुनिकता की दौड़ में हम भूलते जा रहे हैं हमारे शास्त्रों में ऋषियों ने कहा है
"अयं यज्ञो विश्वस्य भुवनस्य नाभि:"
यानी ये यज्ञ भुवन की नाभि यानी ये यज्ञ इस सृष्टि का आधार बिन्दु है।
प्राचीन भारतीय संस्कृति में हवन से ही दिनचर्या का आरम्भ होता था। यज्ञ की वैज्ञानिकता को कई शोध द्वारा सिद्ध भी किया गया है।
कोरोना वायरस में एक बात समझने की है के ये हमारे श्वसन तंत्र पर असर डालता है और यज्ञ का भी सबसे पहला प्रभाव श्वसन पर ही पड़ता है।
शांतिकुंज हरिद्वार के संस्थापक आचार्य श्री राम शर्मा जी ने रोग प्रतिरोधक क्षमता की वृद्धि के लिए यज्ञ को बहुत उपयोगी बताया है और शांतिकुंज में इस संबंध में कई शोध भी हुए है। और अनेक प्रकार की हवन सामग्रियों को भी बताया है इसमें एक मुख्य सामग्री जिसे सभी रोगों में उत्तम माना जाता है वो इसप्रकार है
अगर, तगर, देवदारु, चन्दन, रक्त चन्दन, गुग्गल, जायफल, लौंग, चिरायता, अश्वगंधा, गिलोय एवम तुलसी इत्यादि को समान मात्रा में। मिलाकर उसमे दसवाँ भाग शक्कर तथा दसवाँ भाग घी मिलाकर प्रतिदिन हवन करें।
इसके अतिरिक्त भी अनेक प्रकार की हवन सामग्री बतायी गयी है परन्तु एक दिन हवन करने से कोई विशेष लाभ होने वाला नही हवन को हमे अपनी दैनिक जीवन का हिस्सा बनाना होगा जिससे वायु शुद्ध होगी तथा हमारी रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ेगी।
और हम कोरोना हो या अन्य कोई वायरस उससे लड़कर उसे हरा सकते है।
आज जिस प्रकार कोरोना वायरस फैल रहा है उसे हराने के लिए हमे यज्ञ कीऔर भी ध्यान देनहोगा तथा सरकार को इस ओर विशेष शोध भी करना चाहिए। साथ सही शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाने के लिए हमे प्रतिदिन यज्ञ करना चाहिए।  साथ ही सरकार तथा डॉक्टरों द्वारा दिये जा रहे निर्देशो का पालन करना चाहिए तथा साफ सफाई का विशेष ध्यान रखना चाहिए।
जब सब मिलकर प्रयास करेंगे तो हम इस कोरोना वायरस को आसानी से हरा सकते है और फैलने से रोक सकते है।
सबको जागरुक करे और मिलकर कोरोना को हराये।

1 comment: